Wednesday , April 17 2024

गर्मियों के सुपर फूड्स

तृप्ति शुक्ला-न्यूट्रीशनिस्ट

चिलचिलाती धुप और गर्म हवाओं के मौसम गर्मी में आपकी कार्यक्षमता पर तो बुरा असर पड़ता ही है, अपने ऊपर अधिक ध्यान देने की भी जरूरत होती है। खासकर खानपान का तो इस मौसम में विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए। इस मौसम में ऐसी सब्ज़ियों, फल और पेय पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए, जिनमें ज़्यादा मात्रा में पोषक तत्व और पानी मौजूद हों. गर्मी के मौसम में हल्का खाने का प्रयोग करना चाहिए और कम तेल-मसाले युक्त भोजन का सेवन करना चाहिए | सबसे उपयोगी बात यह है कि इन दिनों में आप कभी भी खाली पेट बाहर न निकलें, क्योंकि इससे लू लगने की संभावना ज्यादा रहती है। गर्मियों में पसीने से सबसे ज्यादा नुकसान शरीर को पानी और नमक का होता है। ऐसे में डी – हाइड्रेशन से बचने के लिए रोजाना 10-15 गिलास पानी पीना चाहिए। कम पानी पीने से यूटीआई(यूरीनरी ट्रैक इन्फेक्शन ) भी हो सकता है।
ग्रीन टी –
ग्रीन टी अपने आप में एक अलग औषधी है जिसका सेवन कर कई बीमारियो से बचा जा सकता है। इसमें कुदरती एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाये जाते है जो शरीर में पाये जाने वाले हानिकारक विषैले तत्वों को बाहर निकालकर शरीर को स्वस्थ रखने में अपनी अहम भूमिका निभाते है।
आम पन्ना-
आम का पन्ना कच्चे आम का शर्बत होता है, जो आपको लू से बचाता है। गर्मियों में रोज़ाना आम का पना पीने से पाचन सही रहता है। इसके अलावा इससे कब्ज़ और पेट की समस्याएं भी दूर रहती हैं।
बेरीज-
ब्लूबेरी और स्ट्रॉबेरी गर्मियों के सीजन में बहुत फायदेमंद हैं, क्योंकि इनमें एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइटोफ्लैवानॉइड्स नामक तत्व पाए जाते हैं। इनमें विटमिन सी की मात्रा भी काफी अधिक होती है, जो गर्मियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण तत्व है।
नारियल पानी-
नारियल पानी को सबसे बेहतर और साफ पेय माना जाता है। नारियल पानी प्रोटीन और पोटैशियम ( अच्छा सॉल्ट ) का अच्छा श्रोत है। इसका कूलिंग इफेक्ट भी काफी अच्छा है , इसलिए एसिडिटी और अल्सर में भी कारगर है। शुगर के मरीज भी नारियल पानी पी सकते हैं।
संतरा-
संतरे का सेवन गर्मियों में करना कई बीमारियों को दूर करने के बराबर होता है। इसके रस में पोटैशियम की भरपूर मात्रा में पाई जाती है जो हमारे शरीर के पसीने के समय बड़ा काम आता है क्योकि पसीने से पौटेशियम की मात्रा निकल जाती है और संतरा ही इस कमी को पूरा करता है।
हरी पत्तेदार सब्जियां-
हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालक, केले का सेवन आदि गर्मियों के लिए काफी उपयोगी होता हैं। केले में आयरन, प्रोटीन, विटामिन और फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है इसका उपयोग करने से शरीर में फाइबर एवं पानी की मात्रा बढ़ जाती है जो शरीर के लिये बेहद फायदेमंद है।
चुकन्दर-
गर्मियों में हमारे शरीर से अत्यधिक पसीना निकलने से त्वचा डीहाइट्रेड हो जाती है और इसी कारण शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी हो जाती है। इसके रस से रक्त में नाइट्रेट की मात्रा बढ़कर दुगुनी हो जाती है और मांसपेशियों भी सुचारू रुप से काम करती है जिससे शरीर में ताकत बनी रहती है।
टमाटर, प्याज और पुदीना-
गर्मियों में तेज धूप की तपन से सनबर्न का होना सबसे आम समस्या है। इन दिनों टमाटर का सेवन ज्यादा मात्रा में करने से आप सनबर्न से बच सकते हैं। टमाटर में विटामिन सी के साथ लाइकोपीन होता है। लाइकोपीन एक ऐसा पिगमेंट है, जिसके कारण टमाटर का रंग लाल होता है। जिससे यह शरीर के अंदर की सफाई कर त्वचा को सनबर्न से बचाता है। धनिया, पुदीना, आंवला, प्याज आदि की चटनी बना कर खाने के साथ खाएं। यह आपके खाने का स्वाद भी बढ़ाती है और मौसम के अनुरूप भी है।
नींबू पानी-
नींबू पानी गरमी में राहत दिलाता है। शरीर में गरमी और उमस के चलते कम हुए लवणों की मात्रा को भी नियंत्रित करता है।
सत्तू-
इसे भुने हुए चने , जौ और गेहूं पीस कर बनाया जाता है। सत्तू पेट की गर्मी शांत करता है। कुछ लोग इसमें शक्कर मिला कर तो कुछ लोग नमक और मसाले मिला कर खाते हैं। गर्मियों में प्यास बुझाने के लिए कोल्ड ड्रिंक्स का इस्तेमाल सेहत के लिए जितना नुकसानदायक होता है, उतना ही चने के सत्तू का शर्बत लाभदायक होता है।
तरबूज-
गर्मियों में मिलने वाले फल जैसे खरबूज़, तरबूज़ और संतरे का जूस गर्मियों के दिनों में काफी फायदेमंद होता है जो शरीर को सक्रिय और फिट बनता है। इससे शरीर में विटामिन सी, विटामिन बी5, बी1, बी2, बी3 और बी6 की पर्याप्त मात्रा भी पहुंच जाता है।
छाछ या मट्ठा-
गर्मियों के दिनों में अमृत के समान माना जाता है, छाछ या मट्ठा। मट्ठा कई सारे पौष्टिक गुणों से भरा हुआ है. साथ ही इसको पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। गर्मी की वजह से अगर तुरंत शरीर को ठंडक पहुंचानी है तो मठ्ठा पियें। खाने के बाद मठ्ठा पीने से पाचन अच्छा बना रहता है। कैल्शियम के अलावा छाछ में प्रोटीन, विटामिन बी और पोटैशियम की प्रचुर मात्रा होती है, जो शरीर के स्वास्थ्य के लिए अच्छे माने जाते हैं। साथ ही इसे पीने से शरीर का इम्यून सिस्टम भी मज़बूत होता है।
खीरा-
खीरे में विटामिन ए, बी1, बी6, सी, डी पोटैशियम, फॉस्फोरस, आयरन आदि पाए जाते हैं। यह कब्ज़ से मुक्ति दिलाता है। खीरा पानी का बहुत अच्छा स्रोत होता है, इसमें 96% पानी होता है।
गुलकंद-
गुलकंद में विटामिन सी, ई और बी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं. इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स की भरपूर मात्रा होती है, जो शरीर की प्रतिरोधी क्षमता बढ़ाते हैं और थकान दूर करते हैं| भोजन के बाद गुलंकद खाना माउथ फ्रेशनर का काम करने के साथ पाचन संबंधी समस्याओं को भी दूर करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nineteen + fourteen =

E-Magazine