Tuesday , June 18 2024

सेक्सटार्शन के जरिए हो रहा पुरुषों का उत्पीड़न

केकेपी न्यूज़ ब्यूरो:

आजकल पुरुषों को सेक्सटार्शन के जरिये ब्लैकमेल किये जाने की घटनाएँ काफी तेजी से बढ़ रही हैं | ऐसे में महिलाओं द्वारा पुरुषों को फोन व व्हाट्सएप्प के जरिये हनी ट्रेप में फँसाया जाता है | महिलाएं किसी भी अपरिचित पुरुष को व्हाट्सएप्प पर वीडियो कॉल करती है | फिर उसे सेक्सुअल वार्ता करते हुए अपनी अर्धनग्न जिस्म को दिखाती है,और उस अपरचित पुरुष को भी वैसे ही करने को कहती है |

फिर महिला द्वारा वीडियो कॉल रिकॉर्ड कर लिया जाता है, और शुरू होता है उस वीडियो को वायरल करने की धमकी के साथ धन उगाही का काम | इसमें पीड़ित पुरुष सामाजिक भय से अपने साथ हुए अपराध को किसी से कह नहीं पाता | इस तरह लगातार बढ़ती प्रताड़ना से क्षुब्ध होकर आत्महत्या तक कर लेते हैं |

इससे बचने के लिए लखनऊ साइबर सेल के प्रभारी रंजीत राय ने लोगों को साइबर अपराधों से बचने की बारीकियां समझाते हुए बताया कि इस तरह के मामलों में पुरुषों को सावधानी बरतते हुए संदिग्ध नंबर व सोशल अकाउंट को ब्लाक कर देना चाहिए | ऐसे मामलों में पुरुषों को मोबाइल या सोशल साइट पर अनजान लोगों से दोस्ती व उनके द्वारा दिए जा रहे प्रलोभनों से बचना चाहिए |

फिर भी अगर कोई इस हनी ट्रेप में फँस जाय तो उसे आल इंडिया मेंस हेल्पलाइन और साइबर सेल में तुरंत शिकायत दर्ज करानी चाहिए | आकड़ों के हिसाब से देखा जाय तो इस हनी ट्रेप के खेल में हर साल एक लाख से अधिक पुरुष आत्महत्या कर रहे हैं |जिसमे 60 प्रतिशत विवाहित व नौकरी से अवकाश प्राप्त पुरुष होते हैं |

समाज में महिलाओं द्वारा पुरुषों पर किया जा रहा अपराध किसी को नहीं दिखता है | क्योंकि इसके खिलाफ पुरुष जब आवाज उठाता है तो महिलाओं द्वारा फर्जी मुकदमा दर्ज करवा दिया जाता है | ऐसे में बेबस व लाचार पुरुष को आत्महत्या के अलावा कुछ और दिखाई नहीं देता | इसलिए सतर्क रहें | सावधान रहें |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifteen + 3 =

E-Magazine