Wednesday , April 17 2024

महिलाएं अपनी लड़कियों के लिए खरीद रही हैं गर्भ निरोधक गोलियां

केकेपी न्यूज़ ब्यूरो:

अभी हाल ही में अमेरिकी सुप्रीमकोर्ट ने महिलाओं को गर्भपात का अधिकार देने वाले पचास वर्ष पुराने फैसले को बदलते हुए इसे गैरकानूनी घोषित कर दिया था | जिससे महिलाएं सेक्स हड़ताल का नारा देते हुए हाथों में तख्तियां लेकर वहां कि सड़कों पर उतर आयीं थी, और गर्भपात का अधिकार देने वाले कानून को पुनः लागू करने की मांग करने लगी थी |

लेकिन अमेरिकी सुप्रीमकोर्ट द्वारा उनकी बातें न मानते हुए व गर्भपात के अधिकार को गैरकानूनी मानते हुए गर्भपात के नियम को और कड़ा कर दिया | जिससे महिलाओं में गर्भ नियंत्रण,इमरजेंसी गर्भनिरोधक पिल्स और गर्भ निरोधक गोलियों की मांग तेजी से बढ़ गयी है | महिलाएं इन गोलियों का स्टॉक करना शुरू कर दिया है | कुछ क्लीनिक्स का कहना है कि सुप्रीमकोर्ट के फैसले से गर्भनिरोधक गोलियों की मांग पहले से ज्यादा बढ़ गयी है |

अटलांटा की एक महिला प्रवक्ता लारेन फ्रेजियर का कहना है कि ऐसी महिलाओं की संख्या ज्यादा है जो जानना चाहती हैं कि वो कितनी गोलियां स्टॉक कर सकती हैं | अमेरिका में गर्भपात व अन्य स्वास्थ्य सेवाएँ प्रदान करने वाली संस्थाओं ने महिलाओं को चेतावनी देते हुए कहा है कि वे इस तरह आवश्यकता से ज्यादा गर्भ निरोधक गोलियां स्टॉक न करें | जरुरतमंदों के लिए भी मार्किट में स्टॉक मौजूद रहना चाहिए |

वहीँ एक अमेरिकी महिला का कहना है कि गर्भपात गैरकानूनी हो जाने के कारण वह अपनी 16 वर्ष की बेटी के लिए गर्भनिरोधक गोलियां खरीदी हैं | ताकि उसे अनचाही प्रेग्नेंसी से बचाया जा सके | मै किसी भी परिस्थिति के लिए तैयार रहना चाहती हूँ |

अमेरिका में ऑनलाइन एबॉर्शन पिल्स बेचनें वाले एक स्टार्टअप का कहना है कि सुप्रीमकोर्ट के फैसले से गर्भ निरोधक आइटम्स की मांग दोगुनी हो गयी है | आज तो वेबसाइट पर 1000% तक ट्रैफिक बढ़ गयी थी | चूँकि यहाँ पर सेक्स प्रतिबंधित नहीं है बल्कि अब एबॉर्शन प्रतिबंधित हो गया है | जिसके चलते यह सब समस्याएं आ रही हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

4 × 4 =

E-Magazine