Saturday , June 15 2024

न्याय प्रक्रिया में सभी विंग का सहयोग जरुरी

केकेपी न्यूज़ ब्यूरो:

आज लखनऊ में न्याय प्रशिक्षण एवं अनुसंधान संस्थान (JTRI) द्वारा अपने परिसर में न्याय प्रक्रिया में आने वाली चुनौती और उसके समाधान विषयक दो दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया | जिसमे हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी ने कहा कि आज भी सामान्य व्यक्ति का विश्वास न्यायलय पर टिका हुआ है | इसलिए न्याय दिलाने की प्रक्रिया में सभी विंग को परस्पर सहयोग करना चाहिए | ताकि पीड़ित को जल्द से जल्द न्याय मिल सके |

इस कार्यक्रम में न्यायाधीश, पुलिस प्रशासन,चिकित्सा विभाग व विधि विज्ञान प्रयोगशाला सहित विभिन्न अंगों के 500 से अधिक वरिष्ठ अधिकारी गणों ने अपनी उपस्थिति दर्ज़ कराई | विशिष्ट अतिथि न्यायमूर्ति विक्रम नाथ ने कहा कि अधिक समय से न्याय प्रक्रिया में लंबित पड़े मामलों के बारे में हमें गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है |

इसमें सभी लोगों को संवेदनशीलता के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करना चाहिए | न्यायमूर्ति राजेश बिंदल ने कहा कि जनता का विश्वास हमारी न्याय व्यवस्था पर बना रहे, इसके लिए हमें केसों के शीघ्र निस्तारण के विषय में सोचना चाहिए |

इस दो दिवसीय कार्यक्रम में इलाहबाद हाईकोर्ट के वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा,न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी,न्यायमूर्ति विक्रम नाथ,न्यायमूर्ति राजेश बिंदल,न्यायमूर्ति देवेन्द्र कुमार उपाध्याय,न्यायमूर्ति राजेश सिंह चौहान, न्यायमूर्ति सरोज यादव,न्यायमूर्ति धरणीधर झा,आईपीएस आशुतोष पांडे,जिला न्यायाधीश अविनाश सक्सेना,पुलिस प्रशिक्षण निदेशालय के महानिदेशक आईपीएस डॉ राजेंद्र पाल सिंह,अब्दुल शाहिद, इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ की न्यायाधीश न्यायमूर्ति रेनू अग्रवाल,चिकित्सा शिक्षा विभाग के विधिक सेल के महानिदेशक प्रो. डॉ डी के निगम,उपनिदेशक डॉ अरुण शर्मा,एसीजेएम अलीगढ़ ऐश्वर्य प्रताप सिंह आदि उपस्थित रहे |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twenty − eighteen =

E-Magazine