Tuesday , June 18 2024

करोड़ों की वसूली के बाद भी नहीं सुधरी नोएडा की ट्रैफिक व्यवस्था

नोएडा।  गौतम बुद्ध नगर की ट्रैफिक पुलिस (Noida Traffic Police) ने बीते 4 साल में 24 लाख चालान काटे हैं. यह चालान ट्रैफिक नियमों का उल्लघंन करने पर काटे गए हैं. 24 लाख के चालान से करोड़ों रुपये जुर्माना वसूला गया है। जुर्माने की रकम से क्रेन समेत कुछ दूसरे उपकरण भी खरीदे गए हैं. एक आरटीआई (RTI) में यह खुलासा हुआ है. लेकिन इतना सब होने के बावजूद सड़कों पर ट्रैफिक के हालात जस के तस हैं. सड़कों के किनारे वाहन खड़े रहते हैं. ऑफिस जाने वाले लोग सुबह-शाम ट्रैफिक जाम को झेलते हैं. उससे भी ज्यादा बुरे हालात सेक्टर-18 और अशोक नगर के हैं. नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर भी सुबह-शाम जाम लगना तय है. दिनभर कुछ ऐसा ही हाल परिचौक पर भी रहता है.

नोएडा के रहने वाले अमित गुप्ता ने यूपी की ट्रैफिक पुलिस से गौतम बुद्ध नगर की ट्रैफिक व्यवस्था को लेकर आरटीआई के माध्यम से कुछ जानकारी मांगी थी. इस जानकारी में सड़कों पर काटे गए ई चालान के बारे में भी सूचना शामिल है. आरटीआई के मुताबिक अप्रैल 2018 से लेकर सितंबर 2021 तक गौतम बुद्ध नगर जिले में करीब 24 लाख चालान काटे गए थे. 2018 से 2021 का आंकड़ा कुछ इस तरह से है.

चालान कटने पर भी नहीं सुधरे अट्टा बाजार और 7 एक्स सोसायटी के हाल

अगर नोएडा की बात करें तो कुछ इलाके ऐसे हैं जहां कई साल से ट्रैफिक के हालात में कोई सुधार नहीं आया है. इसमे सबसे अहम अट्टा बाजार है. बाजार से जुड़ी प्रोग्रेसिव कमेटी फाउंडेशन के अध्यक्ष सुशील कुमार जैन ने बताया कि बाजार में सबसे ज्यादा जाम के हालात दोपहिया वाहन और ई-रिक्शा के चलते रहते हैं. जहां मर्जी होती है वहीं ई-रिक्शा खड़े हो जाते हैं. बाजार में खरीदारी करने के लिए आने वाले दोपहिया वाहन चालकों का भी यही हाल है. वो भी अपने वाहन को कहीं भी खड़ा कर देते हैं.

बाजार की बात तो छोड़िए रेजिडेंशियल इलाकों में सर्विस रोड पर भी ट्रैफिक व्यवस्था का बुरा हाल है. 7एक्स सोसायटी में सड़क पर वाहन लेकर निकलना मुश्किल हो जाता है. अशोक नगर में वाहन से तो छोड़िए आप पैदल ठीक से नहीं चल सकते. बीते कई महीनों से नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर रोड रीसरफेसिंग का काम चलने के कारण सुबह-शाम जाम लगना तो जैसे एक्सप्रेस वे की तकदीर बन गया है.

E-Magazine